बिजली कनेक्शन कितने प्रकार के होते है? | types of Electricity connections

आज हर क्षेत्र में बिजली की काफी डिमांग है और सभी बिजली सप्लाई करने वाली कंपनियों के द्वारा भी Consumers को जरूरत के हिसाब से अलग अलग तरह के बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराए जाते है। इसलिए अगर आप अपने घर Electricity Connection लगवाना चाहते है तो आपको बिजली कनेक्शन के प्रकार के बारे जानकारी जरूर होनी चाहिए। क्योंकि अलग अलग तरह के बिजली connection के लिए आपको Different charge देना पड़ेगा।

यदि आप भी बिजली कनेक्शन कितने प्रकार के होते है? के बारे में जानना चाहते हैं लेकिन आपको इसके संबंध में पर्याप्त Information नहीं मिल पा रही है तो आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरूर पड़ी है क्योंकि इस आर्टिकल में हमने Power connection के सभी प्रकार के बारे में विस्तार पूर्वक पूरी जानकारी प्रदान की है साथ ही हमने आपको वोल्टेज के अनुसार बिजली कनेक्शन के प्रकारों के बारे में बताएं तो आपका ज्यादातर बना लेते हो चलिए शुरू करते हैं-

बिजली कनेक्शन क्यों जरूरी होता है? (Why is a power connection necessary?)

बिजली कनेक्शन कितने प्रकार के होते है types of Electricity connections

आज भारत के हर क्षेत्र में Electricity उपलब्ध कराने के लिए निरंतर प्रयास कर रही हैं। आज देश के शहरी क्षेत्रों में ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी बिजली Supply की जा रही है क्योंकि बिजली हमारे दैनिक जीवन के लिए बहुत ही जरूरी हो गई है. बिजली के माध्यम से हम कोई भी कार्य बड़ी Easily से कम समय में कर सकते है। यही कारण है कि अगर आप बिजली का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको बिजली कनेक्शन लगवाना होगा। Electricity Connection  कई प्रकार के होते हैं जो अलग-अलग जरूरत के हिसाब से Citizens को प्रदान किए जाते है।

आपको बिजली कनेक्शन के प्रकार के बारे में कोई जानकारी नहीं है तो आपके लिए यह Articles बहुत ही जरूरी होने वाला है कि किस आर्टिकल में हमने आपको वोल्टेज के आधार पर बिजली कनेक्शन के प्रकार (Types Of Power Connections On Voltage) तथा उपयोग के आधार पर बिजली कनेक्शन के प्रकार (Types Of Power Connections On Use) के बारे में पूरी जानकारी प्रदान की है।

बिजली कनेक्शन कितने प्रकार के होते हैं? (What are the types of Electricity connections?)

सभी लोग ज्यादातर एक ही कनेक्शन के बारे में जानते हैं जो कि हमारे घर में use होता है हम उसे घरेलू कनेक्शन भी कहते हैं परंतु बिजली कनेक्शन भी कई प्रकार के होते हैं. जिनके बारे में बहुत ही कम लोग जानते हैं इसलिए हम आपको नीचे Electricity Connection के प्रकार के बारे में बताने जा रहे हैं आमतौर पर वोल्टेज के हिसाब से बिजली कनेक्शन दो प्रकार के होते हैं जैसे

LT Electricity connection

 LT कनेक्शन की फुल फॉर्म Low tension electricity होती है। इस प्रकार के बिजली कनेक्शन भी Single phase and three Phase दो तरह के होते हैं। जिनमें अलग-अलग बोल्ट इसके हिसाब से बिजली सप्लाई की जाती है। सिंगल फेज में 230 वोल्ट Electricity Supply की जाती है और वहीं 3 फेस में 400 वोल्ट की बिजली सप्लाई की जाती है। LT Electricity connection के लिए काफी कम चार्ज करना पड़ता है तथा इनका इस्तेमाल सर्वाधिक घरेलू असली कनेक्शन के रूप में किया जाता है।

HT Electricity connection

इस प्रकार के बिजली कनेक्शन को High Tension Electricity Connection के नाम से जाना जाता है इस प्रकार के कनेक्शन लाइनों में 11000 से लेकर 33000 वोल्टेज की बिजली Supply की जाती है। इस प्रकार के कनेक्शन को ज्यादातर उन स्थानों जैसे किसी बड़े उद्योग या बड़े बड़े कारखानों में लगाया जाता है जहां Power supply की आवश्यकता बेहद आवश्यक होती है। लेकिन घरेलू बिजली कनेक्शन की अपेक्षा इस तरह के Electricity connection के लिए काफी अधिक बिल देना पड़ता है।

उपयोग के अनुसार तीन प्रकार के बिजली कनेक्शन होते है।

ऊपर हमने आपको voltage के अनुसार बिजली कनेक्शन के प्रकार के बारे में जानकारी प्रदान की अब हम आपको use के आधार पर बिजली कनेक्शन के प्रकार के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे उपयोग के आधार पर बिजली कनेक्शन को निम्नलिखित तीन भागों में विभाजित किया गया है जो निम्नलिखित प्रकार से नीचे बताए गए हैं

घरेलू बिजली कनेक्शन (Domestic Electricity connection)

जैसा कि आप सभी जानते हैं हम सभी अपने घरों में बिजली से चलने वाले विभिन्न प्रकार के Devices जैसे- Light, fan, cooler etc का इस्तेमाल करते हैं घरों में सप्लाई होने वाली इस बिजली को ही घरेलू बिजली कनेक्शन के नाम से जाना जाता है। Domestic bijli connection सिंगल फेस या फिर थ्री फेस हो सकते हैं।

अगर आपके घर में बिजली आपूर्ति की कमर पर सकता है तो आप सिंगल फेस यानी LT बिजली कनेक्शन लगवा सकते हैं और अगर अधिक बिजली Supply की आवश्यकता है तो आप HT बिजली कनेक्शन ले सकते हैं। लेकिन आज अधिकतर घरों में सिंगल फेस घरेलू बिजली कनेक्शन ही लगाया जाता है आप अपनी आवश्यकता अनुसार कोई भी घरेलू बिजली कनेक्शन ले सकते हैं।

Commercial Electricity connection

अगर हम किसी प्रकार का Business शुरू करते हैं तो उस व्यवसाय में निरंतर बिजली सप्लाई के लिए Commercial bijli connection किया जाता है। कमर्शियल बिजली कनेक्शन को आमतौर पर व्यवसाय बिजली कनेक्शन के नाम से भी जाना जाता है। इस तरह के बिजली कनेक्शन का use ऐसे स्थानों पर किया जाता है, जहां बिजली की अधिक मांग होती है आज बड़े-बड़े Industries and factories में कमर्शियल बिजली कनेक्शन ही लगाया जाता है। क्योंकि इस प्रकार के कनेक्शन को प्राप्त करके आप किसी भी व्यवसायिक स्थान जैसे- Mall, hospital, shop etc पर बिजली आपूर्ति को 24 घंटे बरकरार रख सकते हैं।

Industrial Electricity Connection

इंडस्ट्रियल बिजली कनेक्शन को अधिकतर लोग औद्योगिक बिजली कनेक्शन भी कहा जाता हैं। Industrial power connection का उपयोग बड़े कारखानों फैक्ट्री ,होटल, मॉल तथा विद्युत उपकरण बनाने हेतु हेवी मशीन को Drive करने के लिए उपयोग किया जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस तरह के बिजली कनेक्शन केवल भारत सरकार द्वारा Industrial area में निर्धारित किए गए स्थान पर ही दिए जाते हैं। इस कनेक्शन काफी हजार वोल्ट का बताया जाता है क्योंकि इस कनेक्शन की बिजली 24 घंटे रहती है और काफी बड़े-बड़े जगहों पर इस बिजली का कनेक्शन लिया जाता है।

FAQs

बिजली कनेक्शन कितने प्रकार के होते हैं?

आम तौर पर बिजली कनेक्शन तीन प्रकार के होते हैं घरेलू बिजली कनेक्शन कमर्शियल बिजली कनेक्शन और इंडस्ट्रियल बिजली कनेक्शन।

घरेलू बिजली कनेक्शन कितने फेस के होते हैं?

बिजली प्रदाता कंपनियों के द्वारा लोगों को सप्लाई की जाने वाली घरेलू बिजली कनेक्शन निम्नलिखित 2 फेस के होती हैं जिसमें पहला सिंगल फेस और दूसरा 3 फेस की लाइन होती है।

औद्योगिक बिजली कनेक्शन कौन लगवा सकता है?

औद्योगिक बिजली कनेक्शन को भारत सरकार के द्वारा ऐसे स्थानों पर इंस्टॉल किया जाता है जहां इंडस्ट्रियल कार्य किए जाते हैं तथा बिजली की अत्यधिक आवश्यकता होती है।

निष्कर्ष

अब आप जान चुके होंगे कि आपको अपने लिए किस प्रकार का बिजली कनेक्शन लेना है। क्योंकि आज हमने आप सभी के लिए अपने इस पोस्ट के माध्यम से बिजली कनेक्शन के प्रकार के बारे में विस्तार से पूरी जानकारी प्रदान हैं आशा है कि आपको इस पोस्ट में बताई गई जानकारी समझ आई होगी। अगर आपको आज का यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और नीचे कमेंट करके हमें इस पोस्ट के बारे में अपने विचार जरूर शेयर करे।

Spread the love

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।